भंसाली के कहने पर अक्षय ने पैडमैन की रिलीज़ डेट टाली जाने कब होगी रिलीज़

संजय लीला भंसाली की पद्मावत को सुप्रीम कोर्ट से मिली हरी झंडी के बाद अब उनकी फिल्म को अक्षय कुमार की पैडमैन से भी राहत मिल गई है. अब अक्षय की फिल्म के साथ भंसाली की पद्मावत की भिडंत नहीं होगी. पैडमैन 26 फरवरी को रिलीज होगी.

ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भंसाली ने बताया कि उनकी रिक्वेस्ट पर कैसे दो मिनट में अक्षय ने अपनी फिल्म की रिलीज टालने का फैसला ले लिया. कुछ ही दिन पहले पद्मावत के निर्माताओं ने अक्षय कुमार से मीटिंग की थी.

संजय लीला भंसाली ने बताया, ‘आप सभी को पता है कि पद्मावत को लेकर किस तरह की चीजें हुई. इसलिए मैंने अक्षय से अनुरोध किया कि वो अपनी फिल्म की रिलीज डेट आगे बढ़ा दें. मेरे इतना कहने के बाद उन्होंने अपनी फिल्म की रिलीज डेट बदलने के लिए दो मिनट का भी वक्त नहीं लिया. इसके लिए मैं ताउम्र उनका शुक्रगुजार रहूंगा.’

अक्षय ने कहा, ‘मैंने संजय लीला भंसाली के साथ कई फ़िल्में की हैं. वो मेरे बहुत अच्छे मित्र हैं. फिर मैंने सोचा (उनकी रिक्वेस्ट पर) इतना तो करना चाहिए.’ अक्षय ने यह भी कहा, ‘इस वक्त भंसाली की जरूरत मुझसे कहीं ज्यादा है. मैं समझ सकता हूं उनके साथ क्या हो रहा है. हम दोनों की फ़िल्में साथ आ सकती थीं, लेकिन इस वक्त भंसाली को ज्यादा (25 जनवरी की डेट) जरूरत है.

कुछ ही दिन पहले हुई थी अक्षय से बातचीत

सूत्रों के मुताबिक़ डेट क्लैश से बचने के लिए कुछ ही दिन पहले संजय लीला भंसाली और वायकॉम 18 के लोग पैडमैन की टीम से मिले थे. ये मुलाकात 25 जनवरी को बॉक्स ऑफिस पर दोनों फिल्मों के बीच की टकराव रोकने के लिए थी.

अब आगे क्या ?

दोनों के बीच सहमति का सबसे ज्यादा फायदा वितरकों और थियेटर्स को मिलेगा. दरअसल, दो बड़ी फिल्मों की मौजूदगी से इस तरह की कन्फ्यूजन थी कि किस फिल्म को वरीयता दी जाए. ऐसे में दोनों फिल्मों के बिजनेस पर असर पड़ने की आशंका जताई जा रही थी. बता दें कि भिड़ंत की इसी आशंका के चलते नीरज पांडे ने अपनी फिल्म अय्यारी की रिलीज डेट आगे बढ़ा दी थी. तीनों अच्छी फ़िल्में हैं. माना जा रहा है कि अलग-अलग डेट्स पर आने से तीनों को व्यावसायिक फायदा मिलेगा.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद जारी है बयानबाजी का दौर

पद्मावत फिल्म पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बावजूद उग्र प्रदर्शन और बयानबाजी का दौर जारी है. गुजरात में भी राजस्थान की तरह ही फिल्म का जबरदस्त विरोध हो रहा है. अहमदाबाद में महाकाल सेना के अध्यक्ष संजय सिंह राठौर ने आज तक से कहा, ‘डेढ़ साल से आंदोलन चल रहा है. किसी भी हालत पर ये फ़िल्म गुजरात में नहीं चलने देंगे. सरकार, फ़िल्म प्रोड्यूसर के बीच लुका-छिपी का खेल चल रहा है’

Leave a Reply