टीम इंडिया की जीत पर बांग्लादेश पर जोक्स पढ़े: दिनेश कार्तिक के 8 गेंदों पर 29 रन से पूरा प्रेमदासा स्टेडियम नागिन बन गया

Bangladesh हर बार मुह की खाता है लेकिन बाज नहीं आता है . श्रीलंका को हराने के बाद बांग्लादेश को लगने लगा था वो इस बार नागिन डांस कर पाएंगे जैसे की पाकिस्तान बरसो से अपने पटाखे लिए बैठा हो लेकिन इन दोनों की ख्वाहिश शायद दुनिया के ख़त्म होने तक पुरा ना हो .

इंडिया और बांग्लादेश के बीच ये मैच आने वाले कई दशकों तक याद रहने वाला है. इंडिया, बांग्लादेश के अलावा श्रीलंका इस मैच को कभी नहीं भूलने वाला है. कारण, वो बांग्लादेश को जिस शिद्दत से हारता देखना चाहते थे, वो पूरी हो गई. शुक्रवार को हुई उस घटना का ही नतीजा था कि पूरा प्रेमदासा स्टेडियम खचाखच भरा था.

वापिस आते हैं उस मैच पर जहां मामला अटक गया था. इंडिया की पारी का स्टेरिंग अपने हाथ में रखने वाले रोहित शर्मा ने 56 रन बनाकर गेंद हवा में उछाल दी. इंडिया के चौथे विकेट के रूप में कप्तान का टिके रहना काफी जरूरी था. 98 के स्कोर पर 4 विकेट हो गए थे. रोहित ने 42 गेंदों में 4 चौकों और 3 छक्कों की मदद से ये रन बनाए थे.

रोहित के जाने के बाद मनीष पांडे और विजय शंकर ने मामला संभाला. वैसे इंडिया ने दिनेश कार्तिक की जगह शंकर को ऊपर भेजकर भी एक्सपेरिमेंट किया था. मगर दूसरे स्ट्राइक पर पांडे ज्यादा रहे और रोहित के बाद पारी को संभाल कर रखा. वो लगातार बड़े हिट्स लगाते रहे.

मगर फिर एक मौका ऐसा आया जब मनीष पांडे को बॉलर ने अपने ही फॉलो थ्रू पर रन आउट करने की कोशिश की. पांडे बाल बाल बचे. अगर यहां पांडे आउट होते तो मैच बांग्लादेश की तरफ जा सकता था. उस समय स्कोर 132/4 था और अभी भी 17 गेंदों में 35 रन चाहिए थे.

विजय शंकर ने मुस्तफिजुर रहमान के 18वें ओवर की 5 गेंदों पर 1 रन लिया. शंकर ने लगातार चार गेंदें खाली निकाल दीं. पांचवी पर सिंगल लेकर पांडे को स्ट्राइक दी. प्रेशर ने पांडे को लॉन्ग ऑन पर लंबा शॉट मारने पर मजबूर किया और वहां वो कैच आउट हो गए.

.

“”दिनेश कार्तिक का नाग देखकर

बंगलादेशियो का डांस हुआ शांत🤣🤣””

दो ओवरों यानी 12 गेंदों पर अब 34 रन चाहिए थे
दिनेश कार्तिक ने आते ही पहली ही गेंद पर छक्का तान दिया. थोड़ी सांस आई. रूबेल के इस ओवर की दूसरी गेंद और ये चौका. दो गेंदों में 10 रन. प्रेमदासा स्टेडियम खचाखच भरा हुआ. तीसरी गेंद और फिर मिड विकेट के ऊपर से लंबा छक्का. चौथी गेंद पर बीट हुए. 5वीं गेंद पर डबल लिया. अब 7 गेंदों पर 16 की जरूरत थी. अाखिरी गेंद पर फिर कार्तिक ने चौका मार दिया. यानी 6 गेंदों पर 22 रन मार दिए दिनेश कार्तिक


सामने थे शंकर. वाइड गेंद और रन लेकर स्ट्राइक लेने की कोशिश में रन आउट होते बचे. 4 में 10 चाहिए थे. दिनेश कार्तिक स्ट्राइक पर. सौम्य सरकार का ओवर. कार्तिक ने सिंगल लिया. फिर से स्ट्राइक शंकर के पास. यहां चौके लग गया. 2 गेंद पर 5 रन चाहिए थे. शंकर ने हवा में गेंद टांग दी. दो फील्डर आपस में भिड़े और गेंद आखिर मौके पर हाथ में लटक गई.
वाशिंटन सुंदर आए. मगर स्ट्राइक कार्तिक के पास चला गया था. आखिरी गेंद पर 5 रन चाहिए थे.

कार्तिक ने एक्स्ट्रा कवर पर छक्का जड़ दिया. पूरा प्रेमदासा स्टेडियम नागिन डांस कर रहा था. 8 गेंदों पर 29 रन मारकर कार्तिक ने वो कर दिया जो चाहिए था. इंडिया ये फाइनल मैच 4 विकेट से जीत गया. पूरा स्टेडियम कोबरा और नागिन डांस कर रहा था. उधर गेंदबाज सरकार क्रीज पर हताश होकर बैठ गया और आंखों में आंसू थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Português Português हिन्दी हिन्दी العربية العربية 简体中文 简体中文 Nederlands Nederlands English English Français Français Deutsch Deutsch Italiano Italiano Русский Русский Español Español