ढाई घंटे में ग्रीन कॉरिडोर बनाकर जयपुर से दिल्ली लाया गया दिल, हुआ सफल ट्रांसप्लांट

जयपुर से दिल्ली तक ग्रीन कॉरिडोर बनाकर दिल्ली के अस्पताल में 50 साल के पुरुष का हार्ट ट्रांसप्लांट किया गया. इस पुरुष को लगाया गया दिल जयपुर से 271 किलोमीटर का सफर तय कर मंगवाया गया था. यह सफर 2 घंटे 25 मिनट में तय किया. उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के रहने वाले 50 साल के इस शख्स को 21 साल की लड़की का दिल ट्रांसप्लांट किया गया है. जयपुर की रहने वाली इस लड़की को तीन दिन लाइफ सपोर्ट पर रखने के बाद डॉक्टरों द्वारा ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया था.

50 साल के जिस शख्स को 21 साल की लड़की का दिल ट्रांसप्लांट किया गया है वह उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं. जयपुर की रहने वाली इस लड़की (डोनर) को तीन दिन लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखने के बाद डॉक्टरों द्वारा ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया था.

जिस शख्स को यह दिल ट्रांसप्लांट किया गया है वो कार्डिएट आइकेमिया नाम की बीमारी से पीड़ित थे, जिसकी वजह से संकुचित हृदय धमनियां हार्ट की मसल्स में पर्याप्त रक्त और ऑक्सीजन पहुंचने से रोकती हैं जिसके चलते कई बार हार्ट पेन (pain) होता है.

Dr L H Hiranandani Hospital

इन्होंने ने दो बार स्टेंटिंग भी करवाई है, पहली बार साल 2008 में और दूसरी बार साल 2010 में लेकिन अब लगातार इनकी हालत खराब होती जा रही थी. उन्हें डोनर लड़की का दिल तब लगाया गया जब उनके परिवार वालों ने लड़की के शरीर के अंग दान दिए. दिल्ली के अस्पताल की ट्रांसप्लांट टीम पहुंची और दोपहर 1 बजे दिल लेकर रवाना हुए, पुलिस और ट्रैफिक अथॉरिटी ने फौरन ग्रीन कॉरिडोर तैयार किया जिससे दिल समय रहते दिल्ली पहुंच जाए. 271 किलोमीटर का सफर 2 घंटे 25 मिनट में तय कर दिल दिल्ली पहुंच गया जिसका डॉक्टरों ने सफलतापूर्वक पेशेंट को ट्रांसप्लांट कर दिया.

Leave a Reply

Português Português हिन्दी हिन्दी العربية العربية 简体中文 简体中文 Nederlands Nederlands English English Français Français Deutsch Deutsch Italiano Italiano Русский Русский Español Español